EDUCATION

68500 सहायक अध्यापक भर्ती में ज़िला आवंटन केस में (आरक्षित श्रेणी ) को लेकर प्रयागराज हाईकोर्ट का बड़ा फैसला

प्रयागराज हाईकोर्ट ने प्रदेश के प्राथमिक परिषदीय विद्यालयों में 68500 सहायक अध्यापक भर्ती के तहत मेरिट पर सामान्य श्रेणी में चयनित हुए आरक्षित वर्ग (एमआरसी) के अभ्यर्थियों को बड़ी राहत दी है। लगभग 275 याचिकाओं के माध्यम से हज़ारो अभ्यर्थियों ने तैनाती के आदेश को चुनौती दी थी क्यों की आरक्षित वर्ग के अभ्यर्थियों को कहना था की ऊंची मेरिट होते हुए उन्हें जनरल मान कर उनके गृह जनपद से हज़ारो किलोमीटर दूर भेज दिया गया जबकि आरक्षित श्रेणी के कम मेरिट वाले अभी अपने गृह जनपद में है ।

गलत जिला आवंटन ( 68500 ) आर्डर आने के बाद पीड़ितों की जुबानी जरूर पढ़े पार्ट 2 जरूर पढ़े

जैसा की आप लोगो को पता हैं की जिला आवंटन का फैसला 29 अगस्त को आया था जिसमे MRC अभ्यर्थियों को लाभ दिया गया था कोर्ट मे ये तो साबित हो गया की आवंटन गलत हुआ था लेकिन आवंटन का फैसला कुछ ऊंची मेरिट के अभ्यर्थियों को पसंद नहीं आया. उनकी मांग हैं की आवंटन 68500 के सापेक्ष ही हो आईये जानते हैं अभ्यर्थियों की बात चीज पर आधारित कुछ तथ्य – कुछ जनरल के अभ्यर्थियों का कहना हैं डॉक्टर प्रभात कुमार जी ने केवल एक ट्वीट करके 6127 वालो को नियुक्ति दे दी जबकि वो कम मेरिट वाले थे कम मेरिट होते हुए भी उन्हें उनकी पसंद का जिला मिला 2 - सरकार को कई बार अपनी समस्या से अवगत करवाया गया लेकिन सरकार ने अभी तक कुछ भी नहीं किया एक महिला का कहना हैं की इस गलत जिला आवंटन की वजह से मैं डिप्रेशन मे चल गयी थी कुछ का कहना हैं जोइनिंग सबकी साथ मे हुयी थी उसी टाइम आवंटन कर दिया जाता तो आज ये नौबत नहीं आती