Why Rani Padmawati took Johar?
Why Rani Padmawati took Johar?

चित्तौड़ की रानी ने क्यों लिया था जौहर?

चित्तौड़गढ़ का किला राजस्थान में स्थित है और इसकी ले की बहुत सारी मान्यता है और यह किला भारत के सबसे बड़े खेलों में से एक है।

चिट्टोरगढ़ फ़ोर्ट
चिट्टोरगढ़ फ़ोर्ट

चित्तौड़गढ़ का किला अपनी खूबसूरती के लिए फेमस तो है ही साथ ही साथ जो वहां की रानी थी अत्यंत खूबसूरत थी और जो भी उस रानी को एक बार देख लेता उसका दिल उस रानी पर आ ही जाता था।

रानी पद्मिनी बेहद सुंदर और इतनी खूबसूरत थी कि शायद ही प्राचीन काल में कोई भी रानियां और कोई भी औरत इतनी सुंदर रही होगी लेकिन यह खूबसूरती एक युद्ध छेड़ देगा!

रानी पद्मिनी चित्तौड़
रानी पद्मिनी चित्तौड़

राजस्थान में ऐसे बहुत सारे किले हैं जिनकी कहानियां अभी तक नहीं सुलझी है लेकिन चित्तौड़गढ़ का यह किला और इसकी कहानी एकदम रोमांटिक है।

राजा रतन सिंह चित्तौड़ के राजा थे और रानी पद्मिनी चित्तौड़ की रानी राजा रतन सिंह की 14 रानियां और थी लेकिन राजा रतन सिंह और पद्मिनी का आपस में अच्छा संबंध था दोनों राजा और रानी आपस में खुशियों से रहते थे लेकिन उसके बाद जब किस्से में बदलाव आया तो कहानी एकदम से बदल गई।

अलाउद्दीन खिलजी की नजर जब रानी पद्मिनी पर पडी तो उनके मन मे पद्मिनी के लिए प्रेम जाग उठा उसके बाद उन्होंने राजा रतन सिंह से दोस्ती करने की कोशिश की पर राजा रतन सिंह उनकी चाल समझ गए और उनके बीच युद्ध छिड़ गया।

 रानी पद्मिनी
रानी पद्मिनी

जब उनके बीच युद्ध हुआ तो राजा रत्न सिंह हार गए और म्रत्यु को प्राप्त हो गए, जब यह बात रानी पद्मिनी और बाकी रानियों को पता चली तो उन्होंने तुरंत स्नान किया और अग्नि में कूद गई जिसे जौहर कहा जाता हे।

यह भी पढ़े:
आंखों की रोशनी बढ़ाने के उपाय

About Eshika Patidar

Leave a Reply

Your email address will not be published.